नई दिल्ली। सीएए के समर्थन और विरोध के बीच भड़की हिंसा में अब तक सात लोग मारे जा चुके हैं। उत्तर-पूर्वी दिल्ली के कई इलाकों में आज भी हिंसा जारी है. इस हिंसा में मरने वालों का आंकड़ा सात तक पहुंच गया है। इसमें एक पुलिसकर्मी शामिल है। 100 से ज्यादा लोग घायल हैं जिनमें 48 पुलिसकर्मी हैं। बिगड़ते हालात को देखते हुए गृह मंत्री अमित शाह ने लगातार दूसरी आपात बैठक बुलाई है। .

इस बैठक में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और उपराज्यपाल अनिल बैजल मौजूद हैं। पिछले दो महीने से चल रहे शांतिपूर्ण आंदोलन में भड़की हिंसा ने पुलिस और सरकार को कड़ी कार्रवाई के लिए तैयार कर दिया है। अहिंसक आंदोलन धरने का अधिकार है, पर हिंसा।

अमित शाह ने कल रात भी केंद्रीय गृह सचिव एके भल्ला, दिल्ली के उप-राज्यपाल अनिल बैजल और दिल्ली पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक के साथ बैठक की थी। गृह मंत्री ने अधिकारियों को हिंसा प्रभावित इलाकों में जल्द से जल्द सामान्य हालात की बहाली सुनिश्चित करने को कहा था.

इससे पहले अरविंद केजरीवाल ने प्रभावित इलाकों के विधायकों और अधिकारियों के साथ एक बैठक की थी। उन्होंने यह भी कहा था कि पुलिसकर्मी इसलिए कार्रवाई नहीं कर रहे क्योंकि वे ऊपर से आदेशों का इंतजार कर रहे हैं। अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली के बॉर्डर सील करने की मांग भी की है।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here