Sunday, January 17, 2021
  ट्रंप तो मुफ्त में बदनाम है। हकीकत यह है कि ट्रंप के झूठ अकेले ट्रंप के झूठ नहीं हैं। वे अमेरिका की बहुसंख्यक श्वेत जनसंख्या के झूठ भी हैं। वह झूठ सुनना चाहती है। वह...
  ज्योतिरादित्य के समर्थकों को पूरी तव्वजों के बाद भाजपा में विरोध के स्वर उठने लगे हैं, 'समरथ को नहीं दोष' जैसी चौपाईके जरिये बड़े नेताओं को निशाने पर लिया जा रहा है अरुण पटेल (प्रबंध संपादक,...
  विजय मनोहर तिवारी (पत्रकार लेखक ) एक डाक टिकट जारी हुआ है। कागज के इस टुकड़े में एक चेहरा नुमाया है। वह किसी देहाती जैसा है। गांव का कोई छोटी जोत का किसान। जैसे खाट पर...
  कोई भी आंदोलन हो, सरकार अपने संगठन, किसान गढ़कर उसको दबा रही अब नागिरक को ही विपक्ष बनाकर जनता पर हो रहे हमले -श्रवण गर्ग (वरिष्ठ पत्रकार ) सरकार ने अब अपने ही नागरिक भी चुनना प्रारम्भ कर...
श्रवण गर्ग (वरिष्ठ पत्रकार ) नीति आयोग के मुख्य कार्यकारी (सीइओ )अमिताभ कांत का कहना है कि भारत में कड़े सुधारों को लागू करना बहुत मुश्किल है। हमारे यहां लोकतंत्र कुछ ज़्यादा ही है। राष्ट्रीय स्तर...