हे, शिवराज, महांकाल परिसर में बच्ची से दुष्कर्म करने वाले संघ से जुड़े पुजारी पर खामोश क्यों हैं ?


के के मिश्रा (प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता )
उज्जैन | भगवान महाकाल के मंदिर स्थित अनादिकल्पेश्वर महादेव के पुजारी,आरएसएस कार्यकर्ता व प्रो.एच. एस. सभरवाल की हत्या के आरोपित द्वारा मंदिर परिसर के अंदर एक 13 वर्षीय बालिका (भांजी) के साथ हुई अश्लील हरकतों के सोशल मीडिया में जारी वीडीओ व चित्रों को 48 घंटे से भी अधिक समय बीत चुका है… समाचार पत्रों ने भी खबरें प्रमुखता से प्रकाशित की हैं….अफ़सोस है कि बच्चियों के कथित मामा और प्रदेश की कानून व्यवस्था को लेकर माननीय कमलनाथ जी की सरकार को अपनी खोई हुई राजनैतिक दुकान को चलाने वाले पूर्व मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान इस गंभीर मुद्दे पर सरकार को ” ठप ” करने की गीदड़ भभकी देने पर ख़ामोश हैं…? क्या नेता प्रतिपक्ष श्री गोपाल भार्गव को हर मुद्दे पर अपनी कथित सक्रियता दिखाने से उन्हें नीचा दिखाने का मिशन अब पूर्ण हो चुका है…..या आरएसएस के वास्तविक चरित्र के सामने आ जाने का उन्हें ख़ौफ़ है….या हर हत्याकांड व अन्य बहुचर्चित मामलों में बतौर अपराधियों के रूप में उनकी ही सरकार में संरक्षित संघ,भाजपा,बजरंग दल से जुड़े अपराधियों के प्रामाणिक नामों के सार्वजनिक हो जाने के बाद वे खामोश रहने को मज़बूर हो गए हैं…..या ऐसे हर मुद्दों पर आप अपने जख्मी हाथों की ओर निहार रहे हैं….?
शिवराज जी, “भगवान महाकाल और सिंहस्थ” से आपका रिश्ता सर्वविदित है। लिहाजा,अपनी एक भांजी से जूड़ी इस निंदनीय , जघन्य व अक्षम्य आपराधिक हरकत को लेकर आप कुछ कहेंगे तो बेहतर होगा अन्यथा आपका दोहरा राजनैतिक चरित्र एक बार पुनः प्रदेश की जनता के समक्ष प्रामाणिक तौर पर चस्पा हो जाएगा…?


0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments