निर्मला जी, मैं आठ-दस बैग लादकर चलने को तैयार बशर्ते …
Top Banner बड़ी खबर

निर्मला जी, मैं आठ-दस बैग लादकर चलने को तैयार बशर्ते …

 

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष ने लॉकडाउन को विफल बताते हुए मोदी सरकार पर लगाए कई आरोप,
सरकार से आगे की रणनीति बताने और गरीबों के खाते में रूपए डालने का दिया सुझाव

इंदौर। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने देश में लॉकडाउन को पूरी तरह फेल बताया। उन्होंने कहा कि सरकार आगे की रणनीति का खुलासा करे। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को भी उन्होंने जवाब दिया। निर्मला सीतारमण ने राहुल की मजदूरों से बातचीत को नौटंकी बताया था। उन्होंने कहा था कि राहुल मजदूरों का वक्त बर्बाद कर रहे हैं। बेहतर होता वे मजदूरों का सामान उठाकर उनके साथ चलकर उनका कुछ बोझ कम करते। राहुल ने जवाब में कहा कि मैं मजदूरों के आठ-दस बैग अपने कंधे पर लादकर चलने को तैयार हूँ, निर्मला जी मुझे केंद्र से इसकी इजाजत दिलवाएं।

कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने देश में चार चरणों में लगाए गए लॉकडाउन के विफल रहने का आरोप लगाते हुए मंगलवार को कहा कि प्रधानमंत्री को बताना चाहिए कि आगे कोरोना संकट से निपटने और जरूरतमंदों को मदद देने की उनकी रणनीति क्या है? देश में जारी लॉकडाउन के बीच मंगलवार को चौथी बार कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए पत्रकारों से बातचीत की।

Related stories…..

http://politicswala.com/2020/05/19/nirmalaseetaraman-rahulgandhi-narendra-modi-wakt-sankar/

 

मोदी सरकार पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा कि लॉकडाउन पूरी तरह से फेल हो रहा है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को उम्मीद थी कि कोरोना 21 दिन में नियंत्रित हो जाएगा लेकिन ऐसा नहीं हुआ। उन्होंने अपनी पुरानी मांग दोहराते हुए यह भी कहा कि गरीबों और मजदूरों को 7500 रूपये की मदद दी जाए और राज्य सरकारों को केंद्र की तरफ से पूरी मदद मिले।

राहुल ने कहा कि लॉकडाउन को 60 दिन हो चुके हैं और संक्रमण के मामले लगातार बढ़ते जा रहे हैं। भारत उन देशों में से है जहां कोरोना के मामले सबसे तेजी से बढ़ रहे हैं। प्रधानमंत्री और उनके दिशा-निर्देश स्टाफ से यह उम्मीद नहीं की थी कि ऐसा होगा।

Leave feedback about this

  • Quality
  • Price
  • Service

PROS

+
Add Field

CONS

+
Add Field
Choose Image
Choose Video

X