ट्रांसफर उद्योग का आरोप लगाने वाले सिंधिया के साथियों के पास ही थे बड़े विभाग


युवा कांग्रेस संवाद में खुलकर बोले पूर्व मंत्री जयवर्धन सिंह

अभिषेक कानूनगो
भोपाल। जो लोग दल बदलने के बाद हम पर ट्रांसफर उद्योग चलाने का आरोप लगाते हैं, मैं उनकी जानकारी के लिए बता दूं कि जब कांग्रेस की सरकार थी तो सबसे ज्यादा कर्मचारी वाले शिक्षा, स्वास्थ्य, महिला बाल विकास और परिवहन विभाग ज्योति सिंधिया समर्थक मंत्रियों के पास थे। तो क्या वो भी ट्रांसफर उद्योग में शामिल थे। वक्त आने पर लोग इस तरह के निराधार आरोप लगाने वाले नेताओं को जवाब दे देंगे।

ये कहना है पूर्व नगरीय प्रशासन मंत्री जयवद्र्धनसिंह का। उन्होंने कहा कि गुना के गुनाहगारों पर जब तक मुकदमा दर्ज नहीं हो जाता,चुपचाप नहीं बैठेंगे। हमारी कमेटी ने प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष को रिपोर्ट सौंप दी है। वहां मौजूद हर अफसर उस कांड का जिम्मेदार है।

मैं कहीं जाता हूं तो लोग पूछते हैं, विधायक टूट रहे हैं, कांग्रेस क्या कर रही है। इस पर मेरा एक ही जवाब होता। विधायक बच्चा नहीं है, जिसे बहला-फुसलाकर कोई ले जाए। जो जा रहे हैं, क्या उन्हें ये पता नहीं कि कांग्रेस के बैनर पर विधायक बने थे। खुद की साख पर नहीं। मतदाताओं का अपमान कर पाला बदलने वालों को मतदाता उपचुनाव में जवाब देंगे।

कमलनाथ सरकार में काम न होने का आरोप लगाने वाले सिंधिया के मंत्रियों को जो विभाग मिले थे, उसको भी बराबर तवज्जो दी गई थी। उनकी क्षमता पर निर्भर था कि वो कितना काम कर लेते हैं। सोशल मीडिया का जमाना है।

जो लोग ये कहते थे कि मुख्यमंत्री शिवराजसिंह के हाथों में किसानों का खून लगा है, आज वो ही तारीफों के पुल बांध रहे हैं। वोट देने वाले लोगों के पास दोनों वीडियो मोबाइल में हैं। महंगी बिजली को लेकर कहा कि जिन लोगों के घर पर कमलनाथ सरकार ने दो से पांच सौ रुपए का बिल आता था, अब वहां पांच से नौ हजार आने लगा है।

शिवराजसिंह चौहान इसी तरह लोगों का शोषण करते हैं और खुद को मामा बताते हैं। हमने शहरी क्षेत्र के लिए युवाओं के लिए स्वाभिमान योजना शुरू की थी, जिसमें पन्द्रह से बीस करोड़ रुपए बंट भी गया था।

अगली बार में इसका दोगुना भुगतान होना था। इसी के चलते शहरी आजीविका नियम में हाथ-ठेलेवालों की मदद भी कमलनाथ सरकार ने की थी। इंदौर शहर में सौ महिलाओं को ई-रिक्शा दिलवाए थे, जिससे उन्हें तीस हजार रुपए महीने की आमदनी हो जाती थी।

सुनने में आ रहा है कि ग्वालियर-चंबल अंचल में जो लोग कांग्रेस का काम कर रहे हैं, उन्हें दल बदलने वाले नेता परेशान कर उन पर झूठे मुकदमें दर्ज करवाने का काम कर रहे हैं। ब्लॉक का कार्यकर्ता अब भी कांग्रेस के साथ है। मैं उन सभी को ये कहना चाहता हूं कि यदि किसी पर बेवजह मुकदमें लादे गए या दूसरी तरह से परेशान किया गया तो उनकी लड़ाई हम लड़ेंगे। जयवर्धन युवा कांग्रेस के कार्यक्रम संवाद में बोल रहे थे।


0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments