किसान मुद्दे पर नाथ की दमदारी से भाजपा बैकफुट पर

साहसी नेता ... भाजपा को झूठा बताते हुए कमलनाथ ने किसान क़र्ज़ माफ़ी मुद्दे पर पैन ड्राइव मीडिया को दिया और कहा हमने 26 लाख किसानों का कर्ज माफ़ किया इसमें पूरे जानकारी है,

दर्शक

इंदौर। उपचुनाव को लेकर भाजपा और कांग्रेस अब पूरी तरह आमने-सामने हैं। उप चुनाव के भाजपा के प्रत्याशी लगातार किसानों की क़र्ज़ मुक्ति का मामला उठा रहे हैं। कांग्रेस से भाजपा में आये पूर्व विधायक और मंत्रियों का कहना है कि नाथ सरकार ने किसानों के साथ धोखा किया है।

क़र्ज़ माफ़ी नहीं हुई। पर हकीकत में पूरे प्रदेश के किसान इन प्रत्याशियों को कह रहे हैं कि भाजपा ने पूरे पांच महीने में किसानों के बारे में कोई घोषणा की हो तो बताएं। शहरी क्षेत्रों में बिजली के बड़े बिलों से लोग नाराज़ है। भाजपा के किसान विरोधी ब्यान के जवाब में मुख्यमंत्री कमलनाथ ने गुरुवार को एक और बड़ा स्ट्रोक लगा दिया।

शिवराज सिंह से मुलाकात के बाद नाथ एक पैन ड्राइव लहराते हुए बाहर आये। उन्होंने मीडिया से कहा कि कौन कहता है, हमारी सरकार ने किसानों का कर्ज माफ नहीं किया है। उनके लिए मेरे पास ये पैन ड्राइव है। कांग्रेस ने 26 लाख किसानों का क़र्ज़ माफ़ किया है। प्रदेश में पहली बार किसी पूर्व मुख्यमंत्री ने इतनी दमदारी से अपने कामों को सामने रखने का साहस दिखाया है।

कमलनाथ ने दावा किया कि प्रदेश के 26 लाख से ज्यादा किसानों का हमने कर्ज माफ किया है। मेरे पास इसके प्रमाण हैं पैनड्राइव के रूप में। इसमें उन किसानों के नाम, पते, मोबाइल नंबर, अकाउंट नंबर और कितना कर्जा माफ हुआ है। उसकी राशि दर्ज है।

मैं मीडिया को भी यह उपलब्ध करा रहा हूं। यह हमारे कर्जमाफी का प्रमाण है। यह भाजपा के झूठ की पोल खोल रहा है। जो कर्ज माफी को लेकर आरोप लगा रहे हैं, वे स्वयं कर्ज माफी के कार्यक्रम में शामिल हुए हैं, इसके प्रमाण है।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मुलाकात के बाद कमलनाथ ने कहा कि भाजपा झूठ की राजनीति करती है। हम विकास की राजनीति पर भरोसा करते हैं।

कमलनाथ ने कहा कि क्या ये जनता को कह पाएंगे कि हमने सौदा कर लिया और इसलिए कमलनाथ ने इस्तीफा दे दिया। लेकिन ये बात यह नहीं कर सकते हैं। क्योंकि हमने सौदा नहीं किया है और सरकार से हटने का निर्णय लिया।

भाजपा बताये कौन सी चार सीट जीत रहे है
कमलनाथ ने कहा कि यह कोई आम चुनाव नहीं है, मैं तो इसे उपचुनाव भी नहीं मानता, यह चुनाव तो मध्यप्रदेश के भविष्य का चुनाव है। भाजपा बताएं कि वह कौन सी 4 सीटें जीतने वाली है? हमारा मुकाबला भाजपा से है, उनकी कोई उपलब्धियां तो हैं ही नहीं, जिनसे हम मुकाबला करें।

मेरे काम से डरकर भाजपा ने सरकार गिराई
भाजपा ने मध्यप्रदेश में कैसे संविधान और प्रजातंत्र के साथ खिलवाड़ किया है, यह सभी जानते हैं। मध्यप्रदेश में सौदेबाजी कर और बोली लगाकर जनता की चुनी हुई लोकप्रिय सरकार को गिराया गया है। जिस राज्य में राजनीति को भाजपा ने बिकाऊ बनाया है, वहां सब कुछ बिकाऊ है, यह भाजपा सरकार में ही संभव है। खरीद-फरोख्त की राजनीति से देश में प्रदेश कितना कलंकित हुआ है, यह सभी जानते हैं। मैं तो मध्यप्रदेश की पहचान बदलने में लगा था, भाजपा को यह सहन नहीं हुआ इसलिए मेरी सरकार गिराई।

About The Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *