जानिये सोशल मीडिया पर लोगों ने क्यों पूछा- कैलाश जी आपके बेटे की बल्लेबाजी सुधरी या नहीं


 

कोलकाता। पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को निशाने पर लेना भारतीय जनता पार्टी के महासचिव कैलाश विजयवर्गीय पर भारी पड़ गया। सोशल मीडिया पर उन्हें जमकर ट्रोल किया गया। पश्चिम बंगाल भाजपा के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय ने तृणमूल कांग्रेस और ममता बनर्जी पर निशाना साधा था।

विजयवर्गीय के बयान को न्यूज एजेंसी एएनआइ हिंदी न्यूज ने ट्वीट किया। इसमें देश और दल के नाम पर कैलाश विजयवर्गीय ने पश्चिम बंगाल की सत्तारूढ़ पार्टी को खरी-खोटी सुनायी थी। उनके इस बयान के ट्विटर पर आते ही, पश्चिम बंगाल के भाजपा प्रभारी ट्रोल होने लगे।

विजयवर्गीय ने कहा था, ‘कुछ लोगों के लिए दल पहले है और देश बाद में। देश की जनता ने उन्हें बहुत बौना कर दिया है. मैं आजकल ज्यादा बंगाल में रहता हूं और दावे से कह रहा हूं कि बंगाल में ममता जी की 100 सीट भी नहीं आयेगी, क्योंकि वो कुर्सी की चिंता करती हैं, देश की चिंता नहीं।

भाजपा नेता के इस ट्वीट के बाद योगी और मोदी को लोगों ने निशाने पर लेना शुरू कर दिया। एक यूजर ने लिखा, ‘ममता बनर्जी फिर मुख्यमंत्री बनेंगी. तुम अपने बारे में चिंता करो। एक और यूजर ने लिखा, ‘आपके बेटे की बैटिंग कोई सुधारने आया कि नही।

एक यूजर ने लिखा, ‘अच्छा, तभी आपका बेटा बल्ले से बैटिंग करता है। इसके ठीक बाद किसी ने लिखा, ‘ बेटे का सेलेक्शन आइपीएल में कैसे नहीं हुआ. इतना अच्छा बैटिंग करता तो भी।

एक यूजर ने लिखा, ‘शोले फिल्म में किसानों की फसल गब्बर सिंह लूट लिया करता था. और हमारे यहां चौकीदार लूट रहा है। लोग यहीं नहीं रुके. एक व्यक्ति ने विजयवर्गीय से कहा, ‘आप 10 सीटें भी नहीं जीत पाओगे।

मालूम हो कि विजयवर्गीय का बेटा आकाश इंदौर से विधायक है। पिछले साल आकाश ने इंदौर नगर निगम के कुछ कर्मचारियों की क्रिकेट बैट से धुनाई कर दी थी। इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी विजयवर्गीय से नाराज़ हो गए थे।

 


0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments