विजयवर्गीय का तंज़.. ममता दीदी लॉकडाउन हटा सकती हैं तो ‘मामा’ शिवराज क्यों नहीं ?


रक्षाबंधन के पहले वाले रविवार को मध्यप्रदेश में लॉकडाउन हटाने की वकालत करते हुए भाजपा के महासचिवकैलाश विजयवर्गीय ने इशारों में ममता को शिवराज से बेहतर सीएम बता दिया

इंदौर। मध्यप्रदेश में कोरोना अभी भी बरक़रार है। इंदौर और भोपाल के बाद अब ये धार और बड़वानी जैसे जिलों तक पहुंच गया है। पर नेता जनता के हितेषी दिखने के चक्कर में उनकी जान के दुश्मन बने हुए हैं। पहले इंदौर में आपदा प्रबंधन समिति ने दबाव डालकर ईद से राखी तक पूरा बाज़ार खुलवा दिया। मानो कोरोना संक्रमण में भी फेस्टिवल ऑफर का ऐलान हो।

अब प्रदेश के पूर्व मंत्री और भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव कैलाश विजयवर्गीय रविवार लॉकडाउन को हटाने की पैरवी कर रहे हैं। विजयवर्गीय का कहना है कि रक्षाबंधन के पहले वाले रविवार को लॉकडाउन हटा लिया जाए। आखिर कोरोनाकाल में अपनी नेतागीरी चमकाने को नेता कब तक ऐसे बचकाने अभियान चलाते रहेंगे.

शनिवार को कैलाश विजयवर्गीय ने बड़ा बयान दिया। उन्होंने कहा कि बंगाल में भी रक्षाबंधन के साथ 5 अगस्त को भी लॉकडाउन था। विरोध करने पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने राखी को देखते हुए लॉकडाउन हटा लिया है।

जब ममता बनर्जी लॉकडाउन हटा सकती हैं तो फिर हमारे प्रदेश के मुख्यमंत्री अपनी बहनों के लिए रविवार को मार्केट अनलॉक क्यों नहीं करेंगे। मुझे उम्मीद है शिवराज जी अनुमति देंगे।

गृहमंत्री से रविवार को  की थी बात

विजयवर्गीय ने सोमवार 3 अगस्त को राखी का त्योहार होने से 2 अगस्त को रविवार को राखी की खरीदारी के लिए बाजार खोलने की मांग गृहमंत्री से की थी। गृहमंत्री ने मुख्यमंत्री से चर्चा के बाद निर्णय लेने की बात कही थी। विजयवर्गीय ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से भी इस रविवार को अनलॉक करने का निवेदन किया था।

5 अगस्त को अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के भूमिपूजन को लेकर आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस में रविवार अनलॉक के सवाल पर विजयवर्गीय ने कहा कि जब पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी अनलॉक कर सकती हैं.. तो मुझे उम्मीद है कि मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री भी बहनों के लिए इस रविवार को अनलॉक की अनुमति देंगे।

इंदौर में पांच दिन बाजार हैं अनलॉक

मध्य क्षेत्र के बाजारों को लेकर चल रहे आंदोलन के बाद आखिरकार 30 जुलाई से 4 अगस्त तक यहां के बाजार खोलने के लिए कलेक्टर मनीष सिंह ने बुधवार को आदेश जारी किए थे।

अब सिर्फ रविवार 2 अगस्त को छोड़कर 4 अगस्त तक मध्य क्षेत्र के सभी बाजार पूरी तरह खुलेंगे। बाजार सुबह 7 से लेकर रात 8 बजे तक खुलेंगे, इसके बाद रात 9 से सुबह 7 बजे तक कर्फ्यू लागू रहेगा।