“सत्ता” के राज्यपाल…. काफिले पर हमले के बाद पश्चिम बंगाल के राज्यपाल ममता से बोले-आग से मत खेलो, माफ़ी मांग लो


 

कोलकाता। पश्चिम बंगाल में अब केंद्र और राज्यपाल दोनों सक्रिय दिख रहे हैं। भाजपा नेताओं पर हमले के बाद राज्यपाल जगदीश धनगड ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी से कहा है -आग से मत खेलिए। भाजपा नेताओं पर हमले के एक दिन बाद शुक्रवार को राज्यपाल जगदीप धनखड़ मीडिया के सामने आये।

राजयपाल ने मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के तौर-तरीकों पर सवाल उठाए। उन्होंने कहा कि राज्य के बेहद खराब हालात पर वे केंद्र सरकार को अपनी रिपोर्ट भेज चुके हैं। मुख्यमंत्री आग से न खेलें।

राज्यपाल ने कहा कि मुख्यमंत्री को यह बहस छोड़नी होगी कि कौन भीतरी और कौन बाहरी है। जो हुआ, वह दुर्भाग्यपूर्ण है। यह लोकतंत्र पर कलंक है। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को संविधान मानना चाहिए। वे अपनी जिम्मेदारियों से नहीं हट सकतीं। उन्हें माफी मांगनी चाहिए।

बंगाल के दौरे पर गए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के काफिले पर गुरुवार को तृणमूल समर्थकों ने पथराव कर दिया था। इसी के बाद राज्यपाल ने मुख्यमंत्री पर निशाना साधा है। उधर, गृह मंत्रालय ने पश्चिम बंगाल केऔर मुख्य सचिव को 14 दिसंबर को तलब किया है।

इस हमले में भाजपा के राष्ट्रीय महासचिव और राज्य के प्रभारी कैलाश विजयवर्गीय घायल हो गए हैं। जेपी नड्डा ने इसके बाद कहा कि-मान दुर्गा की कृपा से मैं यहाँ तक बचकर आ सका। हमले पर मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा कि यहाँ रोज नड्डा, फड्डा आते रहते हैं और प्रायोजित हमले करते रहते हैं।

हमले के बाद गृहमंत्री अमित शाह ने राज्य से पूरे मामले की रिपोर्ट भी मांगी है। वही कैलाश विजयवर्गीय ने कहा कि उनके पास हमले का इनपुट पहले से ही था। गृह मंत्रालय को भी सूचना दे दी गई थी।


0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments