कैप्टन ने खोला चंडीगढ़ में पार्टी ऑफिस

कल दिल्ली में नड्‌डा से करेंगे मीटिंग

चंडीगढ़। पंजाब के पूर्व CM कैप्टन अमरिंदर सिंह ने सियासी खेल शुरू कर दिए हैं। कैप्टन की नई पंजाब लोक कांग्रेस पार्टी का चंडीगढ़ के सेक्टर 9 में ऑफिस खुल गया है।

कल अमरिंदर दिल्ली में BJP के राष्ट्रीय प्रधान जेपी नड्‌डा से मीटिंग करेंगे। इसके लिए वह आज ही दिल्ली रवाना हो सकते हैं। मीटिंग में BJP और शिरोमणि अकाली दल (संयुक्त) को लेकर सीट शेयरिंग पर चर्चा करेंगे।

BJP से कैप्टन की मुलाकात की टाइमिंग भी उसी किसान आंदोलन से जुड़ी है, जिस पर अमरिंदर ने सियासी भविष्य दांव पर लगाया था। कैप्टन ने कहा था कि आंदोलन खत्म होने के बाद भाजपा से बात करेंगे।

कल यानी 4 दिसंबर को ही संयुक्त किसान मोर्चा (SKM) आंदोलन खत्म करने पर फैसला लेने वाला है। इसके अलावा कैप्टन ने कांग्रेस पर जुबानी हमले भी तेज कर दिए हैं।

हिंदू होने की वजह से जाखड़ CM नहीं बने : कैप्टन ने कहा कि मैं जाति या धर्म के आधार पर राजनीति करने के सख्त खिलाफ हूं। सुनील जाखड़ को मुख्यमंत्री सिर्फ इसलिए नहीं बनने दिया गया कि वह हिंदू हैं, यह बहुत गलत है।

कांग्रेस में आंतरिक लोकतंत्र नहीं : कैप्टन ने कहा कि कांग्रेस में लोकतंत्र नाम की कोई चीज नहीं है। यहां सबको बताया जाता है कि किसने क्या करना है। पंजाब की मौजूदा चन्नी की सरकार को लेकर भी अक्सर चर्चा रहती है कि उनकी सरकार के फैसले भी दिल्ली से तय किए जा रहे हैं।

पटियाला में सरकार को पटखनी : कैप्टन अमरिंदर सिंह ने दावा किया कि उन्होंने पटियाला नगर निगम में कांग्रेस को पटखनी दे दी है। कैप्टन के करीबी मेयर संजीव शर्मा बिट्‌टू के खिलाफ कांग्रेस अविश्वास प्रस्ताव लेकर आई थी। जिसके लिए जरूरी 21 की जगह उन्होंने 25 मत जुटा लिए। इस पर मुहर तब लगी, जब हाईकोर्ट में सरकार ने कहा कि अभी मेयर संजीव शर्मा ही हैं। हालांकि प्रस्ताव के दिन मंत्री ब्रह्ममोहिंदरा ने कहा था कि मेयर विश्वास मत के लिए जरूरी 31 वोट नहीं जुटा सके, इसलिए उन्हें सस्पेंड कर दिया है।

About The Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *