जीतू हमेशा बड़ा मांगते हैं यही उनकी काबिलियत- कमलनाथ

इंदौर : नगर प्रतिनिधि। मुख्यमंत्री कमलनाथ को असरावद साढ़े तीन बजे पहुंचना था, लेकिन पन्द्रह मिनट पहले ही उनका काफिला असरावद के ओबीसी गर्ल्स होस्टल पहुंच गया। मंत्री जीतू पटवारी की विधानसभा होने के नाते वो पहले से मौजूद थे। उन्होंने मुख्यमंत्री कमलनाथ से कार में बैठकर कहा, सामाजिक न्याय मंत्री थावरचंद गेहलोत को आने में देरी  है, ऐसे में हम फीता बाद में काट लेंगे, वरना उनका अपमान होगा। मुख्यमंत्री ने भी हां कर दी और सीधे मंच पर चले गए।मुख्यमंत्री ने कहां जीतू  पटवारी हमेशा कुछ बड़ा मांगते है यही उनकी काबिलियत है इस तरह के युवा की सियासत में जरूरी।
असरावद में देश का सबसे बड़ा ओबीसी गल्र्स होस्टल बनकर तैयार है। केन्द्रीय मंत्री थावरचंद गेहलोत ने इसकी नींव रखी थी। कल मुख्यमंत्री कमलनाथ ने उनके साथ ही होस्टल का फीता भी काटा। हालांकि तेज बारिश के कारण पूरा होस्टल तो नहीं देख पाए, लेकिन मुख्यमंत्री ने जरूर कह दिया कि ओबीसी होस्टल बनाने के लिए और भी कई शहरों को चिन्हित किया गया है। बीस बरस पहले, जब मैं संसद में था, तब कोई सोच भी नहीं सकता था कि ओबीसी छात्राओं के लिए अलग से होस्टल बनाया जा सकता है। ये ही समय का बदलाव है। हमें महिलाओं की आशाओं को समझना होगा। बच्चियों के भविष्य का निर्माण ही मेरे लिए सबसे बड़ी चुनौती है। आज बढ़ते इंदौर को देखता हूं तो गर्व से सिना चौड़ा हो जाता है, लेकिन निवेश ही नया इंदौर बनाएगा। मुझे थावरचंद गेहलोत पर पूरा भरोसा है। हमने संसद में साथ में काम किया है। वो मुझे फंड भेजेंगे तो प्रदेश का विकास तेजी से हो सकेगा। इतने में अल्पसंख्यक विभाग के मंत्री आरिफ अकिल ने कह दिया, हम पांच सौ करोड़ की छात्रवृत्ति बांटते हैं, जिसमें से केन्द्र से सिर्फ दस फीसदी ही सहायता मिलती है।
सरकारी कार्यक्रम था, इसलिए महापौर मालिनी गौड़ और सांसद शंकर लालवानी भी पहुंचे थे। उनके बैठने की व्यवस्था मंत्री पटवारी ने खुद की। लालवानी पर तंज कसते हुए पटवारी ने कहा, नए-नए सांसद हैं और जैकेट भी नई पहनी हैं। इन्हें देखकर लगता है कि विकास करेंगे, इसलिए सांसदजी के लिए तालियां बजाओ। पटवारी ने लगे हाथ गंभीर-नर्मदा लिंक योजना से असरावद का तालाब भरने की इजाजत भी मुख्यमंत्री से मांग ली, जिससे पचास से ज्यादा गांव को पीने का पानी मिलेगा। पटवारी ने केन्द्रीय मंत्री गेहलोत से कहा, आप तो सड़क के रास्ते कई बार खंडवा जाते हैं, तो इस रोड़ के चौड़ीकरण के लिए काम क्यों नहीं करते। आपके सहयोग से हजारों को फायदा मिलेगा। पटवारी के बाद गेहलोत बोलने आए। उन्होंने कहा, जब मैंने देखा कि इंदौर बड़ा हब बन रहा है, ऐसे में ओबीसी छात्राओं के लिए होस्टल बनाने के लिए जगह तलाशना शुरू कर दी। असरावद में बड़ी जगह मिल गई और यहीं काम शुरू हो गया। यहां के विधायक जीतू पटवारी ने भी मदद कर दी और आज पांच सौ बिस्तर का होस्टल तैयार हो गया है।
मुख्यमंत्री कमलनाथ से मिलने गुरूसिंह सभा के लोग भी असराद पहुंचे थे। रिंकू भाटिया ने बताया, हम मुख्यमंत्री का धन्यवाद करने आए हैं। जिस तरह से उन्होंने सिख समाज का साथ देकर साबित कर दिया कि ये हर वर्ग की सरकार है। इसी तरह की और भी प्रतिनिधि मंडल यहां पहुंचे थे। मंच से मंत्री पटवारी ने जिलाध्यक्ष सदाशिव यादव की तारीफ भी की और उन्हें मुख्यमंत्री से मिलवाया। मंत्री पटवारी, कमलनाथ के साथ निजी विमान से दिल्ली के लिए रवाना हो गए।

About The Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *