कंप्यूटर हैंग- जिनके नाम पर कंप्यूटर बाबा ने धूनी रमाई वो दिग्विजय भी बाबा से मिलने जेल नहीं आये, दौरा रद्द कर दिल्ली पहुंचे


 

इंदौर। नामदेव दास त्यागी उर्फ़ कंप्यूटर बाबा अब अकेले पड़ गए हैं। पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के करीबी कंप्यूटर बाबा की राजनीतिक सहायता के आस भी फिलहाल टूट गई। दिग्विजय सिंह ने बाबा से जेल में मिलने आने का कार्यक्रम रद्द कर दिया। दिग्विजय  कंप्यूटर बाबा से मिलने आने के बजाय दिल्ली चले गए हैं।

मालूम हो कि कंप्यूटर बाबा दिग्विजय के पक्ष में लगातार बोलते हैं। उनके कंप्यूटर से जो भी डाटा निकलता है, वो सिर्फ दिग्विजय के नाम की ही धूनी रमाता है। दिग्विजय के लिए खुद को दांव पर लगाने वाले बाबा आज जेल में अकेले हैं।

इंदौर जिला प्रशासन ने रविवार के बाबा के 40 एकड़ में फैले आश्रम पर बुलडोजर चला दिया था। करीब सौ करोड़ की इस जमीन पर बाबा ने अवैध कब्ज़ा जमा रखा था।

भाजपा के खिलाफ मुखर रहने वाले कंप्यूटर बाबा पर इस कार्रवाई को दिग्विजय सिंह ने बदले की राजनीतिक कार्रवाई बताया था। बाबा का आश्रम पिछले पंद्रह सालों से है, पर कांग्रेस की सत्ता आते ही बाबा ने शिवराज सरकार पर खूब हमले बोले। शिवराज की नर्मदा यात्रा पर भी कंप्यूटर बाबा ने खूब सवाल उठाये थे। मालूम हो कि भोपाल के लोकसभा चुनाव के दौरान दिग्विजय सिंह की जीत के लिए बाबा ने धूनी भी रमाई थी। ये आयोजन बहुत चर्चित हुए था। 

 

रविवार शाम को ये सूचना थी कि पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह नामदेव दास त्यागी उर्फ कम्प्यूटर बाबा से मिलने सोमवार को इंदौर जाएंगे। वे सुबह अपनी कार से इंदौर के सेंट्रल जेल के लिए रवाना होंगे। अब प्रशासन उन्हें मिलने देता है या नहीं, यह बड़ा सवाल है। ऐसे में इसको लेकर विवाद बढ़ने की आशंका बढ़ गई है।

सोमवार सुबह दिग्विजय सिंह के ऑफिस से सूचना आई कि इंदौर दौरे का कार्यक्रम दिग्विजय सिंह ने रद्द कर दिया है। सिंह दिल्ली किसी जरुरी काम से जा रहे हैं। माना जा रहा है कि बाबा के अवैध साम्राज्य के पक्ष में खड़े होकर दिग्विजय अपनी छवि को खराब नहीं करना चाहते।


0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments