दिग्विजय बोले मोदी से झूठा आदमी दुनिया में नहीं, इमरान को बधाई


इंदौर। दिग्विजय सिंह को निरापद रहना सुहाता नहीं। पाकिस्तान पर इतना बड़ा हमला हो जाए तो दिग्गी राजा चुप रहे ये संभव ही नहीं। सबको इंतज़ार था उनके बयान का। शनिवार को इंदौर में वे बोले। दिग्विजय ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को दुनिया का सबसे झूठा आदमी बताया। वहीँ उन्होंने पाक राष्ट्रपति इमरान खान की तारीफ करते हुए उन्हें बधाई दे डाली।
प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के बयान कि यूपीए के शासन काल में सेना को खुली छूट नहीं मिलती थी पर दिग्विजय ने कहा -मैंने आज तक नरेन्द मोदी से बड़ा झूठा आदमी दुनिया में नहीं देखा है। उन्होंने अपने ही अंदाज़ में कहा कि पुलवामा हमले पर की गई जवाबी कार्रवाई पर सवाल नहीं उठा रहा हूँ। । हां यह जरूर है कि जिस तरह से अमेरिका ने ओसामा बिन लादेन को मारने के दुनिया को सबूत दिया था, मोदी सरकार भी एयर स्ट्राइक का सबूत दे।
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान जिस तरीके से वायु विंग कमांडर अभिनंदन को बिना शर्त भारत को सौंपा है, उसके लिए मैं इमरान खान को बधाई देता हूं। जबकि पाक की आईएसआई तथा अन्य कट्टरवादी लोग इमरान के इस कदम की आलोचना कर रहे थे। इनका कहना था कि इमरान खान को अभिनंदन को भारत को सौंपने से पहले सौदेबाजी करनी चाहिए थी। लेकिन पाक पीएम ने ऐसा नहीं किया। उन्होंने अच्छे पड़ोसी होने को परिचय दिया है। इसके लिए मैं उन्हें बधाई देता हूं। अब पाकिस्तान को आसिफ सईद और अजहर मसूद जैसे आतंकियों को भी भारत को सौंप देना चाहिए।
पूर्व सीएम ने यह बात शनिवार को रेसीडेंसी कोठी पर मीडिया से बातचीत करते हुए कही। भाजपा नेता कैलाश विजयवर्गीय द्वारा कांग्रेस को प्रो पाकिस्तान कहे जाने पर दिग्विजय सिंह ने कहा कि मैं देख रहा हूं कि विजयवर्गीय कुछ दिनों से भटके हुए हैं। उन्हें ऐसी बातें नहीं करनी चाहिए। आने वाले लोकसभा चुनाव में हमारी कोई भूमिका नहीं है। जो पहले भूमिका थी, उसी भूमिका में अभी भी हूं। मैंने आज तक टिकट नहीं मांगा है। पार्टी जहां से टिकट देगी वहां से चुनाव लड़ूंगा। कांग्रेस कितनी सीट जीतेगी, इस बारे में अभी कुछ नहीं कह सकता। यह सब टिकट वितरण के बाद बता पाना मुमकिन होगा। ताई के चाबी वाले बयान पर कहा, उनकी नजर में कैलाश विजयवर्गीय की भी अहमियत नहीं है।


0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments