अजय मिश्र टेनी के इस्तीफे की मांग पर अड़ी कांग्रेस

बोली- आरोपी का पिता कैसे कर सकता है न्याय?

नई दिल्ली। कांग्रेस लखीमपुर मामले को लेकर सरकार पर हमलावार है। लगातार मुख्य अभियुक्त के पिता अजय मिश्रा को उनके पद से हटाने की मांग की जा रही है।

अब कांग्रेस की तरफ से कहा गया है कि अगर मुख्य अभियुक्त का पिता अजय मिश्रा टेनी देश का गृह राज्यमंत्री बना रहेगा तो न्याय की उम्मीद कैसी की जा सकती है?

कांग्रेस नेता सुप्रिया श्रीनेत ने कहा कि लखीमपुर खीरी नरसंहार में शहीद किसानों के परिवार यही सवाल पूछ रहे हैं।

दरअसल, मामले की जांच कर रही एसआइटी ने बीते दिनों आशीष मिश्रा मामले में शामिल 13 आरोपियों पर गैर इरादतन हत्या की धाराओं को हटा कर सोची समझी साजिश के तहत हत्या की धाराओं को कोर्ट के आदेश पर जोड़ा था।

जांच अधिकारी की अर्जी पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने आशीष मिश्रा समेत 13 आरोपियों की रिमांड नई धाराओं के तहत बनाई थी।

जानें-क्या है पूरा मामला : लखीमपुर खीरी के तिकुनिया में 3 अक्टूबर को चार किसानों को एक एसयूवी कार द्वारा कथित तौर पर कुचल दिया गया था, जब वे एक कार्यक्रम में कृषि कानूनों के खिलाफ विरोध प्रदर्शन कर लौट रहे थे।

कार्यक्रम में उप-मुख्यमंत्री केशव मौर्य और केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा टेनी मौजूद थे। किसानों का आरोप है कि एसयूवी अजय मिश्रा टेनी की थी और उसमें उनका बेटा आशीष मिश्रा के होने का आरोप है।

मामले में आशीष मिश्रा को गिरफ्तार कर लिया गया है और किसान अब केंद्रीय मंत्री को बर्खास्त करने की मांग कर रहे हैं क्योंकि वह भी इस मामले में आरोपी हैं।

About The Author

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *