स्वास्थ्य मंत्री ने इंदौर के लिए मांगी टेस्ट किट


इंदौर में टेस्ट किट ख़त्म हो चुकी है, सैंपल भी पेंडिंग, केंद्र ने दिया जल्द किट भेजने और प्लाज़्मा थेरेपी से इलाज की अनुमति का आश्वासन

इंदौर। मध्यप्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने शुक्रवार को केंद्र से प्रदेश के हालात पर चर्चा की। मिश्रा ने केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री हर्षवर्धन से वीडियो कॉन्फ़्रेंसिंग कर विस्तार से चर्चा की। मिश्रा ने इंदौर और उज्जैन में बढ़ते संक्रमण और कमियों से केंद्रीय मंत्री को अवगत कराया।

मालूम हो कि देश के रेड जोन में शामिल इंदौर में टेस्टिंग किट खत्म हो गई है। करीब एक हजार सैंपल भी पेंडिंग हैं। रिपोर्ट भी दस दस दिन में मिल पा रही है। कुल मिलाकर इंदौर के हालात बेहद खराब है। निजी अस्पतालों पर प्रसाशन का कोई जोर नहीं है, प्रदेश सरकार के अधिग्रहित अस्पतालों में भी मनमानी चल रही है।

केंद्रीय मंत्री को मिश्रा ने बताया कि मध्यप्रदेश में कोरोना संक्रमित की मृत्यु दर 10 से घटकर 4.8% हो गई है। स्थिति नियंत्रण में है।इसके साथ ही स्वास्थ्य मंत्री ने केंद्र से टेस्ट किट उपलब्ध कराने के लिए भी अनुरोध किया। प्लाज़्मा थेरेपी से इलाज की अनुमति का सवाल भी चर्चा में आया। प्लाज्मा थेरेपी के विषय में हर्षवर्धन जी ने जानकारी दी कि अस्पताल या प्रबंधन सिर्फ एक ईमेल के माध्यम से आईसीएमआर को सूचित कर दें कि गाइडलाइन का पालन करेंगे। प्लाज्मा थेरेपी के माध्यम से कोरोना संक्रमित मरीजों का इलाज अस्पताल और प्रबंधन शुरू कर सकते हैं और साथ ही उन्होंने जांच किट भी मध्यप्रदेश को जल्दी ही उपलब्ध कराए जाने का आश्वासन दिया है।

Also read this story

https://politicswala.com/2020/04/24/indore-privae-hospital-corona-alerrt-shivraj-narottam-mishra-jitupatwari/


0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments