लॉकडाउन में दृष्टिहीन महिला के साथ घर में घुसकर बलात्कार


 

भोपाल। कोरोना के इस दौर में भी हैवानियत करने वाले बाज़ नहीं आ रहे। मध्यप्रदेश की राजधानी भोपाल में लॉकडाउन के बीच मानवता को शर्मसार करने वाली घटना हुई। एक दरिंदे ने दृष्टिहीन महिला से घर में घुसकर बलात्कार किया। 53 वर्षीय ये महिला बैंक में मैनेजर है। इनके पति जरुरी काम से राजस्थान गए हुए थे। लॉकडाउन में वही अटक गए। शुक्रवार को एक दरिंदे ने घर की बालकनी से अंदर घुसकर महिला के साथ जबरजस्ती की।

दैनिक भास्कर अखबार के मुताबिक राजधानी के शाहपुरा इलाके में शुक्रवार की रात दृष्टिहीन महिला बैंक मैनेजर से अज्ञात व्यक्ति ने बलात्कार किया। आरोपी बालकनी के रास्ते घर में घुसा था। घटना के बाद मुख्य द्वार से भाग गया। पीड़ित महिला और उनके पड़ोसियों के दरवाजे बाहर से बंद कर गया। शनिवार सुबह पुलिस ने दरवाजे खोले। पीड़ित घर में अकेली थी। परिवार के सदस्य राजस्थान गए थे। लॉकडाउन की वजह से भोपाल नहीं लौट पाए।

एसडीओपी अनिल त्रिपाठी के मुताबिक, 53 साल की दृष्टिहीन महिला बैंक मैनेजर हैं। वे अपार्टमेंट की दूसरी मंजिल पर रहती हैं। महिला ने पुलिस को बताया कि उनके पति 3 मार्च को अपने पैतृक घर राजस्थान गए थे जो लाॅकडाउन के कारण वहीं फंस गए हैं। गुरुवार की रात गर्मी के कारण नींद नहीं आ रही थी, इसलिए बालकनी का दरवाजा खोल रखा था। लगभग चार बजे अचानक से एक व्यक्ति बालकनी के रास्ते घर में घुस आया। उसने जान से मारने की धमकी देकर ज्यादती की और भाग गया।

पडोसी भी मदद नहीं कर पाए

घटना के बाद महिला ने जब दरवाजा खोलने की कोशिश की तो बदमाश उसे बाहर से बंद कर गया था। पड़ोसियों को मदद के लिए बुलाया, लेकिन उनके दरवाजे भी बाहर से बंद थे। इसके बाद पड़ोसी ने डायल-100 को फोन किया तो पुलिस मौके पर पहुंची और दरवाजे खोले। एसडीओपी त्रिपाठी का कहना है कि महिला ने तीन साल पहले शादी की है, पति भी दृष्टिहीन हैं। महिला खुद ही घर का सारा काम करती हैं। साथ ही बैंक भी खुद आना-जाना करती हैं। आरोपी की तलाश के लिए पुलिस सीसीटीवी कैमरों के फुटेज खंगाल रही है।


0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments