निकाय चुनाव- संजय शुक्ला ने किया चुनाव अभियान का शंखनाद, कांग्रेस में 80 फीसदी नए चेहरों की मांग


 

धार्मिक आयोजनों में सक्रिय रहने वाले विधायक संजय शुक्ला ने कल से शुरू हो रहे मलमास को देखते हुए
मंगलवार को ही शंख फूंककर अभियान शुरू कर दिया, शुक्ला का कहना है कि वे पार्टी के आदेश का पालन करेंगे

इंदौर। इंदौर नगर निगम चुनावों को लेकर कांग्रेस सक्रिय है। इस बार कांग्रेस इंदौर में अपनी ताकत बढ़ाने का कोई मौका नहीं छोड़ना चाहती। कांग्रेस ने सोमवार को इस सम्बन्ध में पहली बैठक भी की। सभी ने एकमत से नए चेहरों को मौका देने पर जोर दिया।

 

इधर कांग्रेस के विधायक संजय शुक्ला ने चुनाव का शंखनाद भी कर दिया। मलमास (अधिकमास) शुरू होने के पहले ही मंदिर में शंख फूंककर शुक्ला ने अभियान की शुरुवात कर दी।

संजय शुक्ला महापौर पद के सबसे मजबूत प्रत्याशी माने जा रहे हैं। हालांकि संजय शुक्ला का साफ़ कहना है कि पार्टी जो जिम्मेदारी देगी वो मैं निभाउंगा। पार्टी और इंदौर के नेताओं के सहयोग से इस बार हम सब मिलकर इंदौर नगर निगम चुनाव में जीत हासिल करेंगे। हालांकि शुक्ला ने ब्राह्मण होने के नाते शुभ कार्य की शुरुवात मलमास से पहले करने की मान्यता के अनुरूप शंख तो फूंक ही दिया। यानी उनकी तरफ से अभियान जारी है।

पूर्व मंत्री सज्जन सिंह वर्मा की मौजूदगी में हुई बैठक में कहा गया कि चुनाव में अब बहुत कम समय बचा है, सभी पूरी ताकत से जुट जाएं। संगठन और सभी नेता आपस में समन्वय से कार्य करें। ब 20 साल में जो नहीं हुआ वह इस बार करना है। इस बार हर हाल में कांग्रेस का महापौर और परिषद बनाना है।

हर वार्ड में दो प्रभारी
बैठक के दौरान यह मुद्दा सामने आया कि इस बार युवा और नए चेहरों को मौका दिया जाए। 80 फीसदी टिकट युवा, नए चेहरों को मिले। बैठक के दौरान युवक कांग्रेस, एनएसयूआई, महिला कांग्रेस, मोर्चा संगठनों से भी नाम मांगे गए, उनसे कहा गया जो जीतने वाला उम्मीदवार हो, उसके नाम दिए जाएं।

बैठक में तय किया गया कि प्रदेश कांग्रेस कमेटी के निर्देशानुसार हर वार्ड में दो-दो प्रभारी (पर्यवेक्षक) बनाए जाएं। यह पहला मौका है जब कांग्रेस वार्ड स्तर पर दो-दो प्रभारी बनाएगी। हर वार्ड से जीतने वाले उम्मीदवार की पैनल बनाने, वार्ड स्तर से लेकर ब्लॉक तक की बैठक करने का निर्णय भी हुआ।

शुक्ला के साथ बाकलीवाल का भी नाम
बैठक के दौरान महापौर के नाम को लेकर पूछा गया बेहतर उम्मीदवार कौन हो सकता है। कई नेताओं ने विधायक संजय शुक्ला का नाम लिया। शुक्ला ने कहा पार्टी कहेगी तो मैं चुनाव लड़ने को तैयार हूं। उन्होंने कहा, पूर्व मंत्री पटवारी या अन्य किसी नेता को टिकट मिलेगा तो भी एकजुट होकर काम करेंगे।

इसके अलावा महापौर के लिए विधायक जीतू पटवारी, शहर कांग्रेस अध्यक्ष विनय बाकलीवाल के नाम भी सामने आए। वहीं वर्मा ने कहा महापौर का उम्मीदवार कौन होगा इसका फैसला पार्टी लेगी। बैठक में विधायक विशाल पटेल, जिला कांग्रेस अध्यक्ष सदाशिव यादव, पूर्व विधायक अश्विन जोशी, सत्यनारायण पटेल, राजेश चौकसे, शेख अलीम, सुरजीत सिंह चड्ढा भी थे।

प्रत्याशी चयन समिति- साधौ और पटेल को जिम्मा
नगर निगम चुनाव को लेकर कांग्रेस ने सोमवार को 15 सदस्यीय प्रत्याशी चयन समिति घोषित कर दी। शहर कांग्रेस अध्यक्ष विनय बाकलीवाल और जिला कांग्रेस अध्यक्ष सदाशिव यादव को समिति में अध्यक्ष बनाया गया है। समिति में 13 सदस्य रहेंगे।

इनमें विधायक, लोकसभा और विधानसभा चुनाव में प्रत्याशी रहे नेता, नगर निगम में नेता प्रतिपक्ष के साथ ही युवक कांग्रेस, शहर महिला कांग्रेस, एनएसयूआई और सेवादल के अध्यक्ष को लिया गया है। प्रदेश कांग्रेस द्वारा बनाई गई प्रत्याशी चयन समिति में पूर्व मंत्री डॉ. विजयलक्ष्मी साधौ और डॉ. विभा पटेल को प्रभारी बनाया है।

चयन समिति में 13 सदस्य बनाए गए हैं जिनमें पंकज संघवी, प्रेमचंद गुड्डू, जीतू पटवारी, संजय शुक्ला, विशाल पटेल, अश्विन जोशी, सुरजीत चड्ढा, सत्यनारायण पटेल, फोजिया शेख अलीम, अमन बजाज, शशि यादव, अमित पटेल, मुकेश यादव शामिल हैं।


0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments