क्यों कांग्रेस को हिन्दुओं का दुश्मन बताने को मजबूर हैं मोदी ?


2014 में विकास के मुद्दे पर सत्ता में आई बीजेपी आ विकास पर
बात ही नहीं करना चाहती, उसका सारा जोर हिन्दू-मुस्लिम पर है !

इंदौर। 2014 के चुनाव में विकास के मुद्दे पर सत्ता में आयी मोदी सरकार आज विकास पर बात ही नहीं करना चाहती। 2019 के चुनाव में पार्टी का पूरा ध्यान सिर्फ और सिर्फ कांग्रेस को हिन्दू विरोधी बताने पर केंद्रित हैं। जाहिर है, वे कांग्रेस को मुस्लिमों की करीबी भी बता ही रहे हैं। पर सबसे बड़ा सवाल ये है कि विकास कहाँ गायब है। क्या पिछले पांच साल में मोदी सरकार ने विकास के कोई ऐसे काम नहीं किये जिन पर वो वोट मान सके। क्या सारे वादे अधूरे हैं, या वे अब किसी काम के नहीं हैं। क्या बीजेपी ने मान लिया है कि धर्म से बड़ा कोई कार्ड नहीं। महाराष्ट्र के वर्धा में चुनावी रैली में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस को हिन्दू विरोधी पार्टी बताते हुए कहा कि कांग्रेस के नेताओं ने हिन्दुओं को आतंकवादी कहा है। इसके पहले उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कह चुके हैं कि बहुजन समाजवादी और समाजवादी पार्टी देवबंद के इशारे पर चलते हैं और हम मां शाकम्भरी के। इसके सीधे मायने ये है कि चुनाव वोटों के ध्रुवीकरण पर ही लड़ा जाएगा। मोदी ने उनपर लगे आरोपों का भी कड़ा जवाब दिया है। ‘शौचालय के चौकीदार’ वाली कांग्रेस की टिप्पणी पर उन्होंने कहा कि आपकी गालियां मेरे लिए गहने के समान हैं। क्योंकि जब मैं शौचालयों का चौकीदार बनता हूं, तो देश की करोड़ों माताओं-बहनों की इज्जत का भी चौकीदार बनता हूं। आपके लिए ये शौचालय होगा, मेरे लिए तो ये मेरी माताओं-बहनों का इज्जत घर है।
पीएम मोदी ने कहा कि महाराष्ट्र में कांग्रेस और एनसीपी का गठबंधन, कुंभकरण की तरह है। जब वे सत्ता में होते हैं तो 6-6 महीने के लिए सोते हैं। छह महीने में कोई एक उठता है और जनता का पैसा खाकर फिर सोने चला जाता है।उन्होंने एमीसैट उपग्रह के सफल प्रक्षेपण पर इसरो के वैज्ञानिकों की प्रशंसा की। प्रधानमंत्री ने कहा कि भारत के एमीसैट उपग्रह का सफल प्रक्षेपण ऐतिहासिक कदम है।

प्रधानमंत्री ने कहा कि इस देश के करोड़ों लोगों पर हिंदू आतंकवाद का दाग लगाने का प्रयास कांग्रेस ने ही किया है। सुशील कुमार शिंदे जब भारत सरकार में मंत्री थे, तो उन्होंने इसी महाराष्ट्र की धरती से हिंदू आतंकवाद की चर्चा की थी। हजारों साल का इतिहास है कि हिंदू ने कभी आतंकवाद की एक भी घटना की है क्या? अंग्रेज इतिहासकारों ने भी इस बात का जिक्र किया है कि हिंदू कभी हिंसक नहीं हो सकता।

कहा कि जिन्होंने 70 साल तक गरीब को गरीब बनाए रखा, वो कभी गरीब का भला नहीं कर सकते है। ये वो लोग हैं जो गरीब के नाम पर पैसा लाकर, उस पैसे से अपनी तिजोरी भरते हैं।


0 0 vote
Article Rating
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments