सीबीआई पर विश्वास है या नहीं

0
65

-जितेंद्रसिंह ने राज्य सरकारों से पूछा

नई दिल्ली। कार्मिक मामलों के केंद्रीय राज्य मंत्री जितेंद्र सिंह ने रविवार को सीबीआई को लेकर राज्य सरकारों से सवाल किया। पूछा, बताएं कि उन्हें सीबीआई पर विश्वास है या नहीं।

वे अपने क्षेत्र में होने वाली घटनाओं की जांच सही तथ्य सामने आने के भरोसे से केंद्रीय एजेंसी को सौंपती हैं या फिर जन दबाव में। मंत्री ने यह बात सीबीआई के 47 अधिकारियों को शानदार सेवा के लिए पुलिस पदक देने के समारोह में कही।

इस दौरान उत्तर प्रदेश के हाथरस दुष्कर्म कांड और हिमाचल प्रदेश के गुड़िया दुष्कर्म कांड की जांच करने वाली सीबीआई की डिप्टी एसपी सीमा पाहुजा को स्वर्ण पदक दिया। उन्हें यह पुरस्कार सर्वश्रेष्ठ जांच अधिकारी के तौर पर दिया गया है।

मंत्री ने कहा, सीबीआई जांच को लेकर जन मान्यता से अलग राय तब सामने आती है जब उसका निष्कर्ष कुछ लोगों के लिए मनचाहा नहीं होता। उन्होंने इस सिलसिले में व्यापक नजरिये से सोचे जाने पर जोर दिया।

दिल्ली स्पेशल पुलिस इस्टैब्लिशमेंट एक्ट के तहत गठित सीबीआई को किसी अन्य प्रदेश में कार्य करने के लिए संबंधित प्रदेश की सरकार की सहमति की जरूरत होती है। इसके अतिरिक्त सुप्रीम कोर्ट और हाईकोर्ट भी किसी मामले की सीबीआइ जांच का आदेश दे सकते हैं।

मंत्री ने कहा, राज्य सरकारें सीबीआइ के बारे में अपनी नकारात्मक राय जाहिर करने से पहले उन मामलों की संख्या देखें जिनकी उन्होंने केंद्रीय एजेंसी से जांच कराए जाने की मांग की।

ज्यादातर मामलों में सरकारों ने जनता की मांग पर ऐसा किया। इसका मतलब यह है कि जनता को सीबीआई पर विश्वास है कि वह सही जांच करती है और निष्पक्ष है।

इसी प्रकार से न्यायपालिका भी अक्सर जटिल और खास मामले ही सीबीआई को जांच के लिए सौंपती है। समारोह में मुख्य सतर्कता आयुक्त सुरेश एन पटेल और कार्मिक सचिव प्रदीप कुमार त्रिपाठी भी मौजूद थे।


LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here